Dhokha shayari , प्यार में धोखा शायरी , लव धोखा शायरी इन हिंदी , Hindi shayari, raushan shayari .in



   9 Badi hasin thi jindgi  Jab naa kisi se mohabbat naa kisi se nafarat thi  Jindgi me ek mor esa aaya mohabbat usase hui  Aur nafarat sari duniya se ho gayi    9 बड़ी हसीन थी जिंदगी  जब ना किसी से मोहब्बत ना किसी से नफ़रत थी  जिंदगी में एक मोड़ ऐसा आया मोहब्बत उससे हुई  और नफ़रत सारी दुनिया से हो गयी
Apno ne diya dhokha shayari

Mohabbat karne wal me bhi aksar ye sila dekha hai
Jinhe apni wafa pe naaz tha unhe bhi bewafa dekha hai

मोहब्बत करने वाल में भी अक्सर ये सिला देखा है
जिन्हे अपनी वफ़ा पे नाज़ था उन्हें भी बेवफा देखा है

 Apno ka dhokha shayari
Mohabbat me koi ji gaya koi pyar me mar gaya
Mohabbat aag ko sagar hai phir bhi utar gaya koi
Pyar me jakham ka hisa  bahut puran hai mere dost
Jakham de gaya koi jakham bhar gaya koi

मोहब्बत में कोई जी गया कोई प्यार में मर गया
मोहब्बत आग को सागर है फिर भी उतर गया कोई
प्यार में जखम का हिसाब  बहुत पुरान है मेरे दोस्त
जख्म दे गया कोई जख्म भर गया कोई

Dhokha shayari hindi
Mauth mangte hai to jindagi khafa ho jaati hai
Jahar lete hai to vo bhi dava ho jaati hai
Tuhi bata de kya karoo mere dost
Jinko bhi chaha vo bewfa ho jati hai

माउथ माँगते है तो जिंदगी खफा हो जाती है
जहर लेते है तो वो भी दवा हो जाती है
तुहि बता दे क्या कारु मेरे दोस्त
जिनको भी चाहे वो बेवफा हो जाती है

मजेदार जोके भी पड़े हिंदी में 


 Apno ka dhokha shyari
 Jo apna tha unse hai khafa
Pata nahi kinse hui thi kya khata
Be bajah dil nahi tuta tha kisi ka
Tum the yaa ham the bewfa

जो अपना था उनसे है खफा
पता नहीं किंसे हुई थी क्या खता
बे बजह दिल नहीं टुटा था किसी का
तुम थे या हम थे बेवफा

 Hindi shayari dhokha
Kaise hai ye hamari takdil
Har tarf dag hi paaya hai
Dil me to pyar hi pyar
Har tarf bewfao ko hi paya hai

कैसे है ये हमारी तक्दील
हर तरफ दाग ही पाया है
दिल में तो प्यार ही प्यार
हर तरफ बेवफाओ को ही पाया है



   9 Badi hasin thi jindgi  Jab naa kisi se mohabbat naa kisi se nafarat thi  Jindgi me ek mor esa aaya mohabbat usase hui  Aur nafarat sari duniya se ho gayi    9 बड़ी हसीन थी जिंदगी  जब ना किसी से मोहब्बत ना किसी से नफ़रत थी  जिंदगी में एक मोड़ ऐसा आया मोहब्बत उससे हुई  और नफ़रत सारी दुनिया से हो गयी
Dhokha shayari in hindi with image
Badi hasin thi jindgi
Jab naa kisi se mohabbat naa kisi se nafarat thi
Jindgi me ek mor esa aaya mohabbat usase hui
Aur nafarat sari duniya se ho gayi

बड़ी हसीन थी जिंदगी
जब ना किसी से मोहब्बत ना किसी से नफ़रत थी
जिंदगी में एक मोड़ ऐसा आया मोहब्बत उससे हुई
और नफ़रत सारी दुनिया से हो गयी


मजेदार जोके भी पड़े हिंदी में 


Two line dhokha shayari
Inkar karte karte ikrar kar baithe
Ham to ek bewfa se pyar kar bhaithe

इंकार करते करते इक़रार कर बैठे
हम तो एक बेवफा से प्यार कर बैठे 

 Dhokha status in hindi shayari
Koi bada nahi phir bhi tera intezaar hai
Judai ke badh bhi tumse pyar hai
Tere chehre ki udasi de rahi hai gabahi
Mujhse milne ki ab bhi tum bekaraar hai

कोई बाड़ा नहीं फिर भी तेरा इंतज़ार है
जुदाई के बाद भी तुमसे प्यार है
तेरे चेहरे की उदासी दे रही है गबाही
मुझसे मिलने की अब भी तुम बेकरार है

pyari me dhokha status shayari 
Ab to ham tere liye ajnabi ho gaye
Baato ke silsile bhi kam ho gaye
Khushiyo se jayada hamare paas gam ho gaya
Kya pata ya bakt bura hai ya bure ham ho gaye

अब तो हम तेरे लिए अजनबी हो गए
बातों के सिलसिले भी कम हो गए
खुशियों से जायदा हमारे पास गम हो गया
क्या पता या बक्त बुरा है या बुरे हम हो गए


 love sad dhokha shayari
 Mohabbat jindgi badal deti hai
Mil jaaye to bhi aur na mile to bhi

मोहब्बत जिंदगी बदल देती है
मिल जाए तो भी और मिले तो भी