Dhokha shayari , प्यार में धोखा शायरी , लव धोखा शायरी इन हिंदी , Hindi shayari, raushan shayari .in


Baat to sirf jajbato ki hai varna

Mohabbat to sat feron ke baad bhi nahi hoti

बात तो सिर्फ जज़्बातों की है वर्ना

मोहब्बत तो सात फेरों के बाद भी नहीं होती

 

Apno ne diya dhokha shayari

dard to bahut hai dil me

Par dikha nahi sakte

Karte hai mohabbat tumse

Par bata nahi sakte

दर्द तो बहुत है दिल में

पर दिखा नहीं सकते

करते है मोहब्बत तुमसे

पर बता नहीं सकते

 

  • Apno ka dhokha shayari

aap se dur ho kar ham jaayegen kahan

Aap jaisa dost ham paayengen kahan

Dil ko kaise bhi sambhal ham lenge

Par aankho ke aansu ham chhupangenge kaha

आप से दूर हो कर हम जाएगें कहाँ

आप जैसा दोस्त हम पाएंगे कहाँ

दिल को कैसे भी संभाल हम लेंगे

पर आँखों के आंसू हम छुपांगेंगे कहा

 

 Apno ka dhokha shayari

Chahat vo nahi jo jaan deti hai

Chahat vo nahi jo muskan deti hai

Ye dost chahat to vo hai

Jo pani me gira aansu pahchan deta hai

चाहत वो नहीं जो जान देती है

चाहत वो नहीं जो मुस्कान देती है

ये दोस्त चाहत तो वो है

जो पानी में गिरा आंसू पहचान देता है

 

Tum bin jindgi suni si lagti hai

Har pal adhuri si lagti hai

Ab to in sanso ko apni sanso ko jod do

Kyuki ab ye jindgi kuchh din ki mehman si lagti hai

तुम बिन ज़िंदगी सूनी सी लगती है

हर पल अधूरी सी लगती है

अब तो इन सांसो को अपनी साँसों को जोड़ दो

क्युकी अब ये जिंदगी कुछ दिन की मेहमान सी लगती है

 

Ishq sabhi ko jina sikha deti hai

Bafa ke naam par marna sikha deti hai

Ishq nahi kiya to karke dekho

Jalim har dard sahna sikha deti hai

 इश्क़ सभी को जीना सीखा देती है

बफा के नाम पर मरना सिखा देती है

इश्क़ नहीं किया तो करके देखो

जालिम हर दर्द सहना सिखा देती है

 

 

dard se dosti ho gayi yaaro

Kya hua jo jal gaya aasiyana hamara

Dur tak roshni to ho gayi yaaro

दर्द से दोस्ती हो गयी यारों

क्या हुआ जो जल गया आशियाना हमारा

दूर तक रोशनी तो हो गयी यारों

 

Bin baat ki ruthne ki aadat hai

Kisi apne ka sath pane ki chaht hai

Aap khus rahe mera kya

Mai to aayina hun mujhe to tootne ki aadat hai

बिन बात की रूठने की आदत है

किसी अपने का साथ पाने की चाहत है

आप खुश रहे मेरा क्या

मैं तो आइना हूँ मुझे तो टूटने की आदत है

 

Rah nahi paayenge bhul kar dekh lo

Yakin na aayeto ajam kar dekh lo

Har jagah mahsoosh hogi meri kami

Apni mahfil ko kitna bhi saja kar dekh lo

रह नहीं पाएंगे भूल कर देख लो

यकीन आये तो आजमा कर देख लो

हर जगह महसूस होगी मेरी कमी

अपनी महफ़िल को कितना भी सजा कर देख लो

 

 

Akasar thahr kar dekhta hun

Apne pairo ke nisan ko

Vo bhi adhure lagte hai tere sath ke bina

अकसर ठहर कर देखता हूँ

अपने पैरो के निशान को

वो भी अधूरे लगते है तेरे साथ के बिना

 

 Mere kalt karne ki uski sajis to dekho

Karib se gujari to chahre se parda hata liya

मेरे गलत करने की उसकी साजिश तो देखो

करीब से गुजरी तो चेहरे से पर्दा हटा लिया

youtube channel

HOME 


LOVE SHAYARI        FRIENDS SHAYARI